WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Rajasthan Cabinet New Minister 2023 12 कैबिनेट और 5 राज्य मंत्री, देखें पूरी लिस्ट

Rajasthan Cabinet New Minister 2023 | राजस्थान कैबिनेट नए मंत्री: 3 दिसंबर, 2023 को हुए राजस्थान विधानसभा चुनावों के बाद, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 108 सीटों के साथ निर्णायक जनादेश हासिल करके विजयी हुई। पार्टी के वरिष्ठ नेता भजन लाल शर्मा को मुख्यमंत्री नियुक्त किया गया। 20 दिसंबर, 2023 को शपथ लेते हुए शर्मा ने अपने मंत्रिमंडल के गठन का काम शुरू किया।

Rajasthan Cabinet New Minister 2023

शपथ ग्रहण समारोह और मंत्रिमंडल विस्तार

आधिकारिक शपथ ग्रहण समारोह 29 दिसंबर, 2023 को राजभवन में हुआ, जहां नव नियुक्त मंत्रियों ने राज्यपाल कलराज मिश्र की उपस्थिति में अपनी जिम्मेदारियों के प्रति प्रतिबद्धता जताई।

विस्तारित मंत्रिमंडल में अब कुल 12 कैबिनेट मंत्री और 5 राज्य मंत्री शामिल हैं, जो राज्य में प्रभावी शासन के लिए पार्टी के दृष्टिकोण को दर्शाता है।

Cabinet Ministers

  1. भजन लाल शर्मा (मुख्यमंत्री)
  2. दीया कुमारी (उपमुख्यमंत्री)
  3. प्रेम चंद बैरवा
  4. राजकुमारी दीया कुमारी
  5. राजेंद्र गुप्ता
  6. टीकाराम जुलानिया
  7. प्रताप सिंह खाचरियावास
  8. -ओमप्रकाश माथुर
  9. -सुभाष गर्ग
  10. रमेश मीना
  11. जीतेन्द्र सिंह
  12. राज्यवर्धन राठौड़

State Ministers

  1. ममता भूपेश
  2. राजेंद्र सिंह
  3. सुखराम मोरदिया
  4. जीतेन्द्र सिंह बिसेन
  5. झाबर सिंह खर्रा

सामाजिक एवं क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व पर जोर

नव विस्तारित कैबिनेट की एक उल्लेखनीय विशेषता सामाजिक और क्षेत्रीय समावेशन पर इसका जानबूझकर ध्यान केंद्रित करना है। संरचना में ब्राह्मण, राजपूत, जाट, वैश्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़े वर्गों सहित विभिन्न समुदायों के प्रतिनिधि शामिल हैं।

प्रतिनिधित्व सभी 12 जिलों तक फैला हुआ है, जिससे कैबिनेट के भीतर एक संतुलित क्षेत्रीय उपस्थिति सुनिश्चित होती है।

मंत्रियों का अनुभव एवं योग्यताएँ

कैबिनेट अनुभव और विशेषज्ञता का एक संतुलित मिश्रण प्रदर्शित करता है। कई मंत्री पहले भी अपने अनुभवी नेतृत्व का प्रदर्शन करते हुए कैबिनेट पदों पर रह चुके हैं।

भजन लाल शर्मा, दीया कुमारी और प्रेम चंद बैरवा जैसे अनुभवी नेता पिछले प्रशासन में मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं और उनके पास काफी अनुभव है। इसके अतिरिक्त, राजकुमारी दीया कुमारी, राजेंद्र गुप्ता, टीकाराम जुलानिया, प्रताप सिंह खाचरियावास, ओमप्रकाश माथुर, सुभाष गर्ग और रमेश मीना कैबिनेट में अपने अनुभवी नेतृत्व का योगदान देते हैं।

झाबर सिंह खर्रा, ममता भूपेश, राजेंद्र सिंह, सुखराम मोरदिया, जितेंद्र सिंह बिसेन और जितेंद्र सिंह जैसे नए चेहरों को शामिल करने से कैबिनेट में नए दृष्टिकोण और ऊर्जा का संचार होता है।

कैबिनेट विस्तार का महत्व

राजस्थान में मंत्रिमंडल का विस्तार राज्य के राजनीतिक परिदृश्य में एक महत्वपूर्ण क्षण है। यह सरकार के लिए एक नए अध्याय की शुरुआत का प्रतीक है, इस उम्मीद के साथ कि नव नियुक्त मंत्री नीतियों को लागू करने और राज्य के विकास में योगदान देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

प्रत्याशित योगदान और सार्वजनिक अपेक्षाएँ

नए मंत्रियों की नियुक्ति के साथ, राज्य की चुनौतियों का समाधान करने और लोगों की भलाई के लिए काम करने की उनकी क्षमता को लेकर आशावाद है। जनता को उम्मीद है कि ये नेता राज्य के विकास में महत्वपूर्ण योगदान देंगे, इसे नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे।

मंत्रियों को न केवल मौजूदा मुद्दों को हल करने बल्कि राज्य की प्रगति में तेजी लाने, विकास और समृद्धि के अभूतपूर्व स्तर तक पहुंचने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

राजस्थान मंत्रिमंडल में सभी 22 मंत्री शामिल हैं: पूरी पीडीएफ सूची यहां देखें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment